मोनिटर्ड अलार्म सिस्टम क्या है और ये कैसे काम करता है?

मोनिटर्ड अलार्म सिस्टम क्या है और ये कैसे काम करता है?

मोनिटर्ड अलार्म सिस्टम क्या है और ये कैसे काम करता है?

February 10, 2019

हमारे जीवन मे सिक्यूरिटी की जरूरत बहुत अहम हो गई है। हालांकि यदि आपने सिक्यूरिटी अलार्म खरीदा होगा तो आपको उसकी क्षमताओं के बारे मे पता होगा। जैसे की यदि आग की वजह से अलार्म ट्रिगर हो जाता है, कोई भीतर घुसता है या कोई चोर चोरी करने आता है तो इन सभी परिस्थितियो में अलार्म सिस्टम अलार्म बजाता है। अलार्म सिस्टम के ये सारे अच्छे फीचर्स आपके लिए तब तक कोई मायने नहीं रखते जब तक की आपका अलार्म सिस्टम प्रापर सिक्यूरिटी सोल्युशंस उपलब्ध नहीं कराता है। इसके लिए मोनिटर्ड अलार्म सिस्टम आपकी मदद कर सकता है जिससे जब भी आप अपने घर से बाहर जाते हैं तो ये आपको पीस ऑफ माइंड(Peace of Mind) देता है। और कोई भी घटना होने पर तुरंत सूचित करता है।

क्यू आपकी प्रॉपर्टी को किसी निगरानी की जरूरत है।?
हम अपने व्यस्त जीवन को देख सकते हैं और ये हमे अपने प्रतिदिन के काम को बिना करे नहीं रह सकते हैं। इसीलिए मोनिटर्ड अलार्म सिस्टम के ये फायदे होते हैं जिससे आपको अपने कीमती समान की सुरक्षा के लिए 24 घंटे नजरे नहीं गड़ानी पड़ेगी और ये आपके कीमती समान की सुरक्षा कर सकेगा।

मोनिटर्ड अलार्म सिस्टम के फायदे –
Peace of Mind – पुलिस आपकी प्रॉपर्टी की सुरक्षा के लिए 24 नज़र नही रख सकती, लेकिन मोनिटोर्ड सिक्यूरिटी के योग्य कर्मचारी यह सुनिश्चित करेगे की आपका घर 24 सुरक्षित रहे वो भी आपकी अनुपस्थिति मे।
First to Respond – आपके घर के हर मोनिटर्ड एरिया का एक सिग्नल होता है जो हर सेकंड उनके ऑफिस को इन्फॉर्म करता रहता है और जब भी कोई कोई इवेंट होती है तो उन्हे पता होता है की कहां पर क्या हुआ है वो तुरंत ही उसी के आधार पर पुलिस, फायर ब्रिगेड या अन्य जिसे आप कहेगे उन्हे सूचित करेगे।
Full Update, No Surprise: – वे लोग आपको पूर्ण सूचना देगे की आपके घर मे क्या हो रहा है ऐसा नहीं है की आपको किसी अलार्म की जानकारी पहले आपके पास के पड़ोसी/दोस्त से पता चले।

मोनिटर्ड अलार्म सिस्टम कैसे काम करता है ?

यह बहुत ही आसान है, आपके अलार्म सिस्टम और सिक्यूरिटी सिस्टम उपलब्ध कराने वाले के कंट्रोल स्टेशन के बीच के तालमेल होता है। इसके संचार की विधि बहुत ही विस्तृत और तेज होती है जिससे छोटे से छोटे नुकसान से बचा जा सके। हर मोनिटर्ड अलार्म सिस्टम के काम करने का टेक्निकल तरीका अलग-अलर्ग सिक्यूरिटी प्रोवाइडर का भिन्न हो सकता है। लेकिन फिर भी ये अनमोनिटर्ड अलार्म सिस्टम से कहीं जादा बेहतर होते हैं।

मोनिटर्ड अलार्म सिस्टम और अनमोनिटोर्ड अलार्म सिस्टम मे एक ही तरह की टेक्निकल तंत्र होते हैं सिवाय सिक्यूरिटी सिस्टम की मोनिटरिंग करने वाले योग्य ऑपरेटर के, जो आपके सिस्टम को 24/7 मॉनिटर करते है और respond करते हैं। सिक्यूरिटी सिस्टम मे कई तरह के सेंसर्स जैसे डोर सेंसर्स, विंडो सेंसर्स, मोशन सेंसर्स, टेंपर सेंसर्स include होते हैं। और जब ये ट्रिगर होते हैं तब इसका अलर्ट मॉनिटरिंग स्टेशन को मिलता है।

जब कोई अलार्म बजता है तो कंट्रोल सेंटर एक वार्निंग सिंगल प्राप्त करता है जिसमें exact लोकेशन की जानकारी होती है। जैसे ही वो सिंगल receive करते हैं, वो तुरंत ही आपको सूचित करते हैं। और साथ ही उससे संबन्धित जुड़े लोगो को जिनका contact नंबर आपने दिया होगा। अगर किसी से contact नहीं हो पाता तो अगले नंबर पर संपर्क करेगे।

घर पर अलार्म सिस्टम इन्स्टाल करवाना आपकी आधी सिकुरिटी होती है, मोनिटर्ड अलार्म सिस्टम इन्स्टाल करने पर आप अपनी और आपनी कीमती चीजो को पूरी तरह सुरक्षित कर सकते हैं। इसके अलावा मोनिटर्ड अलार्म सिस्टम इन्स्टाल कराने के बाद कोई भी साइन, bells या अलार्म अनदेखा नही किया जाता है और आवश्यक actions लिए जाते हैं।

Share your Blog...Share on Facebook
Facebook
Tweet about this on Twitter
Twitter
Share on LinkedIn
Linkedin